formula: घन, घनाभ, बेलन, शंकु, गोले, अर्धगोले का सूत्र हिंदी में

Spread the love

Formula: घन, घनाभ, बेलन, शंकु, गोले, अर्धगोले का सूत्र हिंदी में (Cube, Cuboid, Cylinder, Cone, Sphere, Hemisphere Formula in Hindi)  

  • घन का विकर्ण = √3a
  • घन का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल = 4 a2
  • घन का सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल = 6 a2
  • घन का आयतन = a3
  • घनाभ का विकर्ण = √(L2 + b2 + h2)
  • घनाभ सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2(lb + bh + hl)
  • घनाभ का आयतन = lbh
  • घनाभ का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2πrh
  • बेलन का सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2πr(r+h)
  • बेलन का आयतन = πr2h
  • शंकु की तिर्यक ऊंचाई = l = √(r2 + h2)
  • शंकु का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल = πrl
  • शंकु का सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल = πr(r+l)
  • शंकु का आयतन = (1/3)πr2h
  • गोले का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल = 4πr2
  • गोले का आयतन = (4/3)πr3
  • अर्धगोले का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2πr2
  • अर्धगोले का सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल = 3πr2
  • अर्धगोले का आयतन = (2/3)πr3

वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल और सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल क्या होता है।

उदाहरण के तौर पर जब हम बेलन का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल निकालते है तो इसमें हम केवल ऊपरी सतह का क्षेत्रफल निकलते है और जब हम सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल की बात करते है तो इसमें ऊपरी सतह के साथ साथ ऊपरी और नीचले वृत का क्षेत्रफल भी निकालते है। इसलिए बेलन का वक्र पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2πrh और सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल = 2πrh + 2πr2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *